सी एस आई आर के बारे में


चूँकि परिषद् ने नई सहस्राब्दि में प्रवेश किया, सी एस आई आर के लिए रूपांकित कार्य नीति संबंधी मार्ग चित्र ने निम्नांकित की परिकल्पना की:


  • संगठनात्मक ढ़ांचे का पुनर्निर्माण करना।।
  • अनुसंधान को बाज़ार से जोड़ना।
  • संसाधनों को जुटाना तथा अनुकूल बनाना।
  • समर्थक अवसंरचना का सृजन करना; और
  • भावी प्रौद्योगिकियों के अग्रदूत बनने वाले उच्च गुणता के विज्ञान में निवेश करना।

दिलचस्प रूप से, भारत सरकार ने एक नई विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी नीति 2003 की घोषणा भी की है ।

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद् (सी एस आई आर) – जोकि भारत में अग्रणी अनुसंधान एवं विकास संगठन है, की स्थापना सन् 1942 में तत्कालीन केंद्रीय विधानसभा द्वारा एक संकल्प के जरिए की गई थी। यह सन् 1860 के सोसाइटी पंजीकरण अधिनियम के तहत पंजीकृत एक स्वायत्त निकाय है। सी एस आई आर निर्णायक क्षेत्रों के साथ-साथ आधारभूत ज्ञान को आगे बढ़ाने हेतु औद्योगिक प्रतिस्पर्धात्मकता, समाज कल्याण, सशक्त वैज्ञानिक एवं प्रौद्योगिकी आधार प्रदान करने का लक्ष्य रखता है।

सी एस आई आर की दुनिया में स्वागत है