सी एस आई आर – राष्ट्रीय भूभौतिकीय अनुसंधान संस्थान,
उप्पल रोड, हैदराबाद–500007
हरि नारायण ज्ञान संसाधन केंद्र

संस्थान का हरि नारायण ज्ञान संसाधन केंद्र (एच एन के आर सी) केंद्रीय भूभौतिकी बोर्ड, जो कि 1940 वें दशक के उत्तरार्ध में कोलकाता में अस्तित्व में आया, के पुस्तकालय का ही विस्तारण है। अक्तूबर 1961 में यह बोर्ड वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद के अंतर्गत राष्ट्रीय भूभौतिकीय अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद के रूप में रूपांतरित हुआ था। यह केंद्र संस्थान के वैज्ञानिकों और प्रौद्योगिकीविदों को सूचना प्रसारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। संस्थान का ह.ना.ज्ञा.सं.कें. परंपरागत मुद्रित रूप के साथ-साथ डिजिटल मीडिया में पुस्तकें, जर्नल, प्रतिवेदन जैसे बहुमूल्य पुस्तकालय संसाधनों से समृद्ध है।

पुस्तकालय संसाधन

(1 फरवरी 2014 तक)
मुद्रित पुस्तकें 19900
मुद्रित जर्नलों के जिल्दबन्द अंक 17556
मुद्रित जर्नलों के लिए चन्दा 15
ऑनलाइन जर्नलों के लिए चन्दा 120
सीडी-रॉम संकलन 200
शोध प्रबन्ध 65

अलमारियों का व्यवस्थापन

सार्वत्रिक दशमलव वर्गीकरण (यू डी सी) प्रणाली के अनुसार वर्गीकृत मुद्रित पुस्तकें खुली अलमारियों में रखी जाती हैं। पृथ्वी विज्ञान की किताबें पुस्तकालय भवन की पहली मंजिल में एक अलग अनुभाग में उपलब्ध हैं। पृथ्वी विज्ञान को छोड़कर अन्य सभी किताबें पुस्तकालय भवन के भूतल में रखी जाती हैं। पृथ्वी विज्ञान जर्नलों के जिल्दबंद अंक भी पहली मंजिल में पृथ्वी विज्ञान पुस्तकों वाले अनुभाग के बगल में रखे जाते हैं। भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित के पुराने जिल्दबंद ग्रन्थ पहली मंजिल में एक अलग हाल में रखे जाते हैं।

ऑनलाइन सार्वजनिक परिग्रहण सूची

पुस्तकें आंग्ल-अमरीकी प्रसूचीकरण नियमों के अनुसार प्रसूचीकृत की जाती हैं। पुस्तकालय में हस्तकृत सूचक कार्डों की तैयारी बंद कर दी गयी है। यू जी सी का एक संघटक निकाय इनफ्लिबनेट केन्द्र, अहमदाबाद द्वारा विकसित एक पुस्तकालय प्रबंधन सॉफ्टवेयर एसओयूएल 2.0 का प्रापण किया गया है और वह पुस्तकालय के रखरखाव कार्यों के लिए चालू है।

प्रमुख डिज़िटल संसाधन (ऑनलाइन)

अमेरिकन असोसिएशन ऑफ ऐडवांसमेंट ऑफ साइंसेसविज्ञानसभी
अमेरिकन असोसिएशन ऑफ पेट्रोलियम जियोलजिस्ट्सबुलेटिनसभी
अमेरिकन जियोफिज़िकल यूनियनजर्नल+किताबेंसभी
वार्षिक समीक्षाएँभौतिक विज्ञान1997-
ऑस्ट्रेलियन सोसाइटी ऑफ एक्सप्लोरेशन जियोफिज़िसिस्ट्सजर्नलसभी
ब्लैकवेल-विलेपृथ्वी विज्ञान जर्नलसभी
कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेसभूवैज्ञानिक पत्रिका1997-
एल्सेवियर (साइंस डाइरेक्ट)पृथ्वी विज्ञान जर्नलसभी
यूरोपियन असोसिएशन ऑफ जियोसाइंटिस्ट्स एण्ड इंजीनियर्सनियर सर्फेस जियोफिज़िक्ससभी
जियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ अमेरिका जर्नल+विशेष प्रकाशनसभी
जियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ लंदनजर्नल+किताबेंसभी
इंजीनियरिंग विलेजजियोरेफ डाटाबेस1785-
मिनरलॉजिकल असोसिएशन ऑफ कनाडाकनाडियन मिनरॉलजिस्टसभी
मिनरालॉजिकल सोसाइटी ऑफ अमेरिकाअमेरिकन मिनरॉलजिस्टसभी
मिनरालॉजिकल सोसाइटी (यू के)मिनरलॉजिकल मैगजीन1997-
नैशनल रीसर्च काउंसिल, कनाडाकनाडियन जर्नल ऑफ अर्थ साइंससभी
नेचर पब्लिशिंग ग्रूपपत्रिका+नेचर जियोसाइंस1987-
मैकमिलन पब्लिशिंगनेचरसभी
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेसजर्नल ऑफ पेट्रॉलजीसभी
साइस्मोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ अमेरिकाबुलेटिन ऑफ साइस्मो. सोसा. अमे.सभी
सोसाइटी ऑफ इकनामिक जियोलजिस्ट्सबुलेटिनसभी
सोसाइटी ऑफ एक्सप्लोरेशन जियोफिज़िसिस्ट्स जर्नल+किताबेंसभी
स्प्रिंगर वेरलैगपृथ्वी विज्ञान जर्नलसभी
टेर्रा पब्लिकेशन्स, जापानअर्थ, प्लैनेट्स एण्ड स्पेस जियोकेमिकल जर्नलसभी 
थॉमसन रायटर (एन के आर सी के माध्यम से)वेब ऑफ साइंस1987-
यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो प्रेस (जे एस टी ओ आर)जर्नल ऑफ जियोलजी सभी

हरि नारायण ज्ञान संसाधन केंद्र की सदस्यता

ह.ना.ज्ञा.सं.कें. बाहर के शोध छात्रों और संकाय के लिए अपने संसाधनों को मुहैया कराता है। अन्य पुस्तकालयों को अनुरोध किए जाने पर उपलब्ध लेखों के प्रलेख वितरण की व्यवस्था की जाती है। ऑनलाइन अनुपलब्ध संसाधनों की फोटोकॉपी कराने की भी व्यवस्था की जाती है। पुस्तकालय की सदस्यता संस्थान के वैज्ञानिकों, तकनीकी अधिकारियों और अनुसंधान फेलो, परियोजना फेलो, सेवामुक्त वैज्ञानिकों सहित अन्य कर्मचारियों को दी जाती है। सदस्यता से संबंधित नियम-विनियम सहित सदस्यता प्रपत्र पुस्तकालय की इंट्रानेट साइट पर उपलब्ध हैं।

सेवा तथा प्रशिक्षण

ह.ना.ज्ञा.सं.कें. उपयोगकर्ताओं को अनुसंधान से संबंधित अभिरुचि वाले विषयों पर ग्रंथसूचियां तैयार करने में या अभिरुचि के क्षेत्र में प्रकाशक की वेबसाइटों के माध्यम से सावधान सूचनाओं (अलर्ट) को पाने की व्यवस्था करने में मदद करता है। चंदा दिए गए जर्नलों से पूर्ण पाठ दस्तावेज़ डाउनलोड किए जा सकते हैं। संस्थान के अनुसंधानकर्ताओं द्वारा प्रकाशित किए गए लेखों का एक संग्रह भी ई-प्रिंट्स सॉफ्टवेयर का उपयोग करके बनाया जा रहा है।

ह.ना.ज्ञा.सं.कें. नियमित रूप से परंपरागत और डिजिटल संसाधनों के उपयोग के संबंध में प्रशिक्षण प्रदान करता है। वैज्ञानिकों के प्रकाशनों का उद्धरण विश्लेषण किया जाता है और अनुरोध किए जाने पर उनको दिया जाता है। यह जर्नलों के प्रभाव कारकों (इंपैक्ट फैक्टर्स) के विषय में भी जानकारी प्रदान करता है। समय समय पर उपयोगकर्ताओं के लिए नए ज्ञान संसाधनों के बारे में व्याख्यान और प्रदर्शन आयोजित किए जाते हैं। इस ह.ना.ज्ञा.सं.कें. पर अनुपलब्ध संसाधनों के लिए, वे उत्पाद या तो अन्य संगठनों से अंतर-पुस्तकालय उधार पर हासिल किए जाते हैं या व्यापारिक अभिकरणों से ‘उपयोग के प्रति भुगतान’ के आधार पर प्राप्त किए जाते हैं। ह.ना.ज्ञा.सं.कें. बाहरी अभिकरणों के जरिए भुगतान के आधार पर दस्तावेजों के अनुवाद की व्यवस्था कर सकता है।

संपर्क विवरण

संस्थान का ह.ना.ज्ञा.सं.कें. सुप्रशिक्षित पुस्तकालय कर्मचारियों द्वारा संचालित किया जाता है। वर्तमान में पुस्तकालय सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारी निम्नांकित हैं:

  • श्रीधर ए ,तकनीकी सहायक
  • श्रीमती पी. सुशीला, तकनीकी सहायक
  • श्रीमती जी. लावण्या, तकनीशियन

पुस्तकालय से निम्नांकित के जरिए संपर्क किया जा सकता है:
फोन: 91-040-27012361/2362
फैक्स: 91-040-27171564
ई मेल: library@ngri.res.in